आप ही इस राष्ट्र की नियति हैं - विवेक जी


विवेक जी और युवा संवाद

विवेक जी लगातार इस पूरे राष्ट्र में संवाद करते हुए रहते हैं, इसी कड़ी में युवाओं से संवाद करते हुए और उनके अंतर्मन को झकझोरते हुए यह कहा, सुने इस विडीओ में।